Home Video ‘ऋषि कपूर एक सख्त बॉयफ्रेंड और पजेसिव हसबैंड थे’: KWK शो में नीतू कपूर ने कहा- वे चाहते थे मैं हर समय उनके आसपास रहूं

‘ऋषि कपूर एक सख्त बॉयफ्रेंड और पजेसिव हसबैंड थे’: KWK शो में नीतू कपूर ने कहा- वे चाहते थे मैं हर समय उनके आसपास रहूं

0
‘ऋषि कपूर एक सख्त बॉयफ्रेंड और पजेसिव हसबैंड थे’: KWK शो में नीतू कपूर ने कहा- वे चाहते थे मैं हर समय उनके आसपास रहूं

[ad_1]

  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Rishi Kapoor Was A Strict Boyfriend And Possessive Husband, Karan Johar, Neetu Kapoor, Rishi Kapoor, Coffee With Karan Show, Spoke About Rishi Memory

1 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

करण जौहर के टॉक शो ‘कॉफी विद करण’ में इस बार वेटरन एक्ट्रेसेस नीतू कपूर और जीनत अमान शामिल हुईं। उन्होंने शो में अपनी पर्सनल लाइफ से लेकर फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ी कई बातें शेयर कीं। KWK शो में नीतू कपूर ने ऋषि कपूर को एक सख्त बॉयफ्रेंड और पजेसिव हसबैंड बताया। उन्होंने कहा- ऋषि हमेशा मुझे अपने आसपास देखना चाहते थे। मैं अपनी फैमिली लाइफ को एन्जॉय करना चाहती थी, इसलिए फिल्में करना छोड़ दी थीं।

'कॉफी विद करण' शो का ये 8वां सीजन चल रहा है।

‘कॉफी विद करण’ शो का ये 8वां सीजन चल रहा है।

ऋषि कपूर एक पजेसिव हसबैंड थे
करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ का ये 8वां सीजन चल रहा है। सीजन में अब तक दीपिका पादुकोण, सिद्धार्थ मल्होत्रा, जान्हवी कपूर से लेकर शर्मिला टैगोर और सैफ अली खान तक आ चुके हैं। ऐसे में इस बार शो में दो वेटरन एक्ट्रेसेस नीतू कपूर और जीनत अमान नजर आईं। शो में दोनों की शानदार बॉन्डिंग देखने को मिली।

नीतू कपूर ने ऋषि कपूर से शादी के बाद फिल्में करना छोड़ दिया था। उन्होंने महज 20-21 साल की उम्र में बॉलीवुड छोड़ने के बारे में बात करते हुए कहा- मैंने 5 साल की उम्र से काम करना शुरू किया था। मेरी फिल्म ‘दो कलियां’ से मुझे लोगों का बहुत प्यार मिला। मैंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत में ही पॉपुलैरिटी देख ली थी। इस वजह से बाद में मेरे लिए फिल्में करना एक तरह से नौकरी जैसा हो गया था। मैंने 5 साल से 21 साल तक की उम्र के बीच लगभग 70-80 फिल्में की थीं।

साल 1980 में नीतू कपूर और ऋषि कपूर शादी के बंधन में बंधे थे।

साल 1980 में नीतू कपूर और ऋषि कपूर शादी के बंधन में बंधे थे।

नीतू कपूर अपने फिल्में छोड़ने के फैसले से काफी खुश थीं उन्होंने आगे कहा- मैंने इंडस्ट्री में 15 साल काम किया है। बच्चों के जन्म के बाद मैं खुद का सारा समय अपने परिवार और बच्चों के साथ बिताना चाहती थी। ऋषि एक पजेसिव पति थे। वे हमेशा चाहते थे कि मैं उनके आसपास रहूं। मुझे भी ये अच्छा लगता था। इसलिए उस समय मेरी जिंदगी उन्हीं के इर्द-गिर्द थी और परिवार के साथ थी। मैं अपनी इस जिंदगी में बहुत खुश थी। मेरे परिवार में हर किसी के अंदर प्यार भरा हुआ था। मेरी सास अब तक की सबसे अच्छी इंसानों में से एक थीं। मेरे ससुर भी एक कमाल के इंसान थे। हम सब एक खुशहाल पंजाबी परिवार की तरह रहते थे और खूब हंसी-मजाक किया करते थे। जब मैं चेंबूर के देवनार कॉटेज में रहती थी, वे मेरी जिंदगी के सबसे अच्छे दिन थे।

जीनत अमान ने मदरहुड काफी एन्जॉय किया
जीनत अमान ने अपनी पर्सनल लाइफ शेयर करते हुए बताया कि कैसे वे स्टारडम देखने के बाद मदरहुड को एन्जॉय करने के लिए तैयार थीं। वे इस बदलाव से अपनी जिंदगी में बेहद खुश थीं। उन्होंने कहा- मैं इस बदलाव के लिए पूरी तरह से तैयार थी। मैं अपनी लाइफ के नेक्स्ट चैप्टर की ओर बढ़ना चाहती थी। मैंने मां बनने के सफर में अपना 100% दिया, बिल्कुल उसी तरह जैसे मैं फिल्मों में अपना 100% दिया करती थी। इसलिए जब मैं अपने सफर को पीछे मुड़कर देखती हूं, तो मुझे बिल्कुल नहीं लगता कि मैंने कुछ खोया है।

नीतू कपूर ने कहा- मेरी मां और मेरा बॉयफ्रेंड दोनों काफी सख्त थे
शो के दौरान नीतू कपूर ने ये भी बताया कि ऋषि कपूर एक सख्त बॉयफ्रेंड थे। उन्होंने नीतू कपूर को फिल्म इंडस्ट्री के पार्टी कल्चर से दूर रखा। नीतू कपूर ने कहा- यशजी (यश चोपड़ा) के साथ हम खूब मौज-मस्ती करते थे। मगर हां, चूंकि ऋषि कपूर मेरे बॉयफ्रेंड थे इसलिए मैंने कभी पार्टी-पार्टी नहीं की। ये अक्सर होता था कि ये मत करो, वो मत करो, घर आओ। शायद इसलिए मैंने कभी पार्टी का वाइल्ड साइड नहीं देखा। मैं कमिटेड थी। मेरी जिंदगी में एक स्ट्रिक्ट मां और एक स्ट्रिक्ट बॉयफ्रेंड था। इसलिए मैं उन दोनों के बीच फंस गई थी।

साल 2020 में ऋषि कपूर का ल्यूकेमिया (एक प्रकार का कैंसर) से निधन हो गया था।

साल 2020 में ऋषि कपूर का ल्यूकेमिया (एक प्रकार का कैंसर) से निधन हो गया था।

नीतू कपूर ने पति के अंतिम दिनों को याद किया
इसके अलावा नीतू कपूर ने ऋषि कपूर के आखिरी दिनों के बारे में भी बातचीत की। बता दें, ऋषि कपूर अपने आखिरी दिनों में न्यूयॉर्क में ल्यूकेमिया का इलाज करा रहे थे। नीतू कपूर ने कहा- मुझे दुख भरे दिनों को याद करना पसंद नहीं है। आप जानते हैं कि चिंटू जी (ऋषि कपूर) बहुत प्यारे इंसान थे। हालांकि उनके अंदर बहुत प्यार था, लेकिन वो उस प्यार का इजहार नहीं किया करते थे। बीमारी के वक्त ऋषि जी ने खुलकर वो छिपा हुआ प्यार दिखाया। सच कहूं तो हमने न्यूयॉर्क में अपनी जिंदगी का बहुत अच्छा समय बिताया था।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here